Home health मासिक धर्म(period) के दर्द को कम करने के घरेलु उपाय 100% working-...

मासिक धर्म(period) के दर्द को कम करने के घरेलु उपाय 100% working- for girls

SHARE

एक औरत के रूप में हम सभी इसे जानते हैं, इससे डरते है, और कभी-कभी हम इसके शुक्रगुजार भी होते है मैं बात कर रही हु मासिक धर्म/monthly period/Menstrual की.

आज आप जानेगी की कैसे घरेलु उपचार से आप मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द को कम कर सकती है।

A . व्यायाम / Exercise:

सुनने में थोड़ा अजीब लगेगा की मासिक धर्म के दौरान चलने में भी परेशानी होती है तो व्यायाम कैसे करे लेकिंग यह सही है हल्के फुल्के व्यायाम करने से आपका शरीर रक्त को तेजी से pumping करता है जिस से आपका पेट दर्द बहुत हद तक कम हो जाता है।

B. अंगों को गर्म रखना / Apply heat

मासिक धर्म से जुड़े अंगों को गर्म रखने से गर्भाशय में संविदाकारी मांसपेशियों को आराम करने में मदद मिलती है, जो आपके दर्द का कारण है। बाजार में बहुत से हीटिंग पैच और पैड मिलते है वो आप apply कर सकती है , और कुछ नहीं तो एक गर्म पानी की बोतल आप अपने पेट पर लगा कर आराम कर सकती है।

SEE:अण्डा मासाहारी या शाकाहारी? जानिए सही जवाब

C. कैमोमाइल की चाय / chamomile tea

chamomile tea

कैमोमाइल जिसे हिंदी में “बाबूने ” कहा जाता है ,कृषि और रसायन विज्ञान के जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि इस सुगंधित चाय में दर्द-मुक्ती गुण पाए जाते है ,मासिक धर्म में कैमोमाइल की चाय पीने से शरीर की ऐंठन कम होती है और पेट के दर्द में कमी आती है।

D. विटामिन डी / vitamin D

सुनिश्चित करें कि आप पर्याप्त विटामिन डी ले रही हो, रोकथाम को हमेशा इलाज के मुकाबले बेहतर माना जाता है , इसलिए यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपके शरीर में मासिक धर्म के ऐंठन को रोकने में पर्याप्त विटामिन डी ले रही हो । एक अध्ययन में पाया गया कि विटामिन डी 3 की उच्च मात्रा में मासिक धर्म में ऐंठन में महत्वपूर्ण कमी आई है। विटामिन डी लेने वाली महिलाओ में मासिक धर्म के दर्द में 41 % से ज्यादा कमी अाति है.

vitamin d के कुछ प्राकृतिक स्त्रोत:-मशरूम,बादाम का दूध,सूरज की हल्की धूप

E. कामोत्तेजना/ orgasm

हा , आपने सही देखा शारीरिक कामोत्तेजना।कामोत्तेजना से पहले या दौरान गर्भाशय से जुड़े अंग relax हो जाते है जिस से ऐंठन कम हो जाती है , और इसका एक और फायदा भी है कामोत्तेजना से शरीर में रक्त चाप बढ़ जाता है और दर्द में कमी आती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here